उठै है रेतराग ( Out of Print)

retraag
(राजस्थानी कविता संग्रह),   शिक्षा प्रकाशन, सोनीपत 2005
राजस्थानी अकादमी से सम्मानित किताब
फिलहाल आउट ऑफ प्रिंट

किताब के बारे में

indira-goswami-2”दुष्यंत की कविताएं विश्वास दिलाती हैं कि भविष्य में उन्हें भारतीय साहित्य में श्रेष्ठ कवियों में रखा जाएगा, प्रेम कविताओं में दुष्यंत ने जिन आयामों और गहराइयों को छुआ है, प्रशंसनीय हैं, उनकी कविताओं को पढना एक ऐसी यात्रा से गुजरना है जो मानवीय भावनाओं और जीवानुभवों का जीवंत अहसास कराती हैं। ”
– स्व. इंदिरा गोस्वामी, ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित असमी लेखिका